Achche Din Aane Wale Hain

ufo,paranormal,supernatural,pyramid,religion and independence movement of india,bermuda,area 51,jatingha

53 Posts

294 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 1814 postid : 443

वजीफा गबन के आरोपी शिक्षा मित्र नही तो कौन है,जबकि हेड मास्टर को गबन में सहयोग देने के आरोप में पदच्युत किया जा चुका है?

Posted On: 27 Jan, 2009 में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

जब शिक्षा मित्र गबन के आरोपी हो नही सकते,पूर्व हेड मास्टर (इंचार्ज) खतीब अहमद को गबन में सहयोग करने के आरोप में पदच्युत (दिनांक १०-१२-२००८ को बी एस ऐ बरेली द्वारा) किया जा चुका है,तो श्री मान बी एस ऐ महोदय बताएं के किसको गबन कराने में खतीब अहमद हेड मास्टर ने सहयोग किया,वजीफा में लगभग चार लाख का घोटाला गबन करने का मुख्य आरोपी स्कूल स्तर से किसको पाया गया,और विभाग द्वारा वजीफा गबन के मुख्य आरोपियों के विरुध्य क्या कार्यवाही अब तक की गयी है,गबन की गई शासकीय धनराशी की बापसी (रिकाबरी ) के लिए विभाग और अधिकारियों द्वारा क्या प्रयास और कार्यवाही की गयी है ।

शिक्षा मित्र वजीफा गबन के मुख्य आरोपी क्यों -

१- वजीफा वितरण से सम्बंधित समस्त स्कूल रिकॉर्ड पर (१९९९-२००८ ) केवल दोनों शिक्षा मित्रो के हस्ताक्षर हैं,जिसमे सरफ़राज़ अहमद (शिक्षा मित्र ) द्वारा स्कूल हेड मास्टर के पदनाम व् मोहर के साथ अपने हस्ताक्षर किए गए हैं,और अवैध रूप से ख़ुद को हेड मास्टर के रूप में दर्शाने का प्रयास धोखाधडी पूर्वक किया है ,साथ ही मोहम्मद अशरफ के हस्ताक्षर शिक्षा मित्र के रूप में किए गए हैं.उक्त दोनों के हस्ताक्षरों के अतिरिक्त किसी अन्य के हस्ताक्षर वितरण रिकॉर्ड पर मौजूद नहीं हैं ।

२- स्कूल के समस्त वजीफा वितरण रजिस्टर व् अन्य वितरण रिकॉर्ड पर नियमानुसार ग्राम प्रधान ,सेक्रेटरी,स्कूल हेड मास्टर ,ग्राम शिक्षा समिति सदस्यों में से किसी के भी हस्ताक्षर या अंगूठा निशान मौजूद नही हैं।

३-समस्त स्कूल रिकॉर्ड व् सम्बंधित वजीफा वितरण पंजिकाओं में इन्ही दोनों शिक्षा मित्रों के ही हस्ताक्षर मौजूद हैं।समस्त वजीफा मांगपत्रों,वितरण पंजिकाओं ,वितरण सूचीओं ,उपभोग प्रमाण पत्रों,बच्चों के फोटो प्रमाणित करने,स्कूल रिकॉर्ड सत्यापित करने का कार्य दोनों शिक्षा मित्रों द्वारा अपने हस्ताक्षरों से ही किया गया है,जबकि उपरोक्त कार्य केवल स्कूल हेड मास्टर व् सेक्रेटरी और ग्राम प्रधान द्वारा ही किए जाने के प्रावधान है.

४- समस्त उपभोग प्रमाणपत्र वजीफा वितरण २०००-२००८ पर हेड मास्टर,सेक्रेट्री और ग्राम प्रधान के हस्ताक्षरों के स्थान पर उनके जगह दोनों शिक्षा मित्रों के हस्ताक्षर ही मौजूद होना दर्शाता है की दोनों शिक्षा मित्र ही वजीफा वितरण के सर्वे सर्व रहे हैं,शेष सभी की भूमिका नगण्य रही है.वजीफा वितरण उपभोग प्रमाण पात्र द्वारा ही सूचना विभाग को स्कूल से भेजी जाती है,जिस पर नियमानुसार हेडमास्टर,ग्राम प्रधान व् सेक्रेटरी द्वारा प्रमाणित किया जाता है,इसी के आधार पर विभाग को वजीफा वितरण हो जाने की पुष्टि होती है ,पर गोठा स्कूल के वजीफा वितरण उपभोग प्रमाण पत्रों पर हेडमास्टर,ग्रामप्रधान,और सेक्रेटरी के हस्ताक्षर न होने पर भी ,विभाग द्वारा इस अबैध वजीफा उपभोग प्रमाण पत्रों को स्वीकार करना व् वैधः मान लेना संदेह जनक प्रतीत होता है,और वजीफा घोटाला में विभागीय मिलीभगत को आभासित करता है

५- वर्ष २०००-२००८ अवधी में समस्त नामांकन (स्कूल में बच्चों के प्रवेश अंकन ) कार्य भी अवैध रूप से इन्ही दोनों शिक्षा मित्रों द्वारा किए गए हैं।

६- गोठा स्कूल में वर्ष २०००-२००८ अवधि के दौरान अधिकतर ग्राम शिक्क्षा समिति की मासिक सभाओं कार्यवाही व् प्रस्ताव पारित की कार्यवाही प्रकिर्या पर भी ग्राम शिक्क्षा समिति सचिव के रूप में हेड मास्टर के स्थान पर सरफ़राज़ अहमद शिक्षा मित्र सरफ़राज़ अहमद के हस्ताक्षर हेडमास्टर पदनाम व् मोहर के साथ अवैध रूप से किए गए हैं।

७- ग्राम्शिक्षा समिति द्वारा वजीफा वितरण से सम्बंधित मीटिंग कार्यवाही प्रस्तावों पर भी शिक्षा मित्र सरफ़राज़ अहमद के हस्ताक्षर अवैध रूप से हेडमास्टर के पदनाम व् मोहर के साथ किए गए हैं।

८- वर्ष २००३ से जुलाई २००८ तक गोठा स्कूल में विधिवत व् वैध रूप से विभाग द्वारा किसी भी हेडमास्टर या इंचार्ज मास्टर को गोठा स्कूल में नियुक्त नही किया गया ,वल्कि इस अवधि में उच्च प्राथमिक स्कूल सुकटिया ,ब्लाक दम्खोदा के हेडमास्टर खतीब अहमद को गोठा स्कूल का वित्तीय प्रभार व् निर्माण प्रभार सहायक बेसिक शिक्षा अधिकारी दमखोदा द्वारा अस्थाई विवसथा के तहत सौंपा गया था ,जबकि विभागीय नियमानुसार अस्थाई विवसथा का कोई प्रावधान वैध नही है।

९- ब्लाक दमखोदा में हेडमास्टर व् सहायक अध्यापकों (स्थाई ) की अत्यन्त कमी होने पर ,एक एक अध्यापक पर कई कई स्कूलों का वित्तीय प्रभार व् निर्माण प्रभार रहता है,और मुख्यता वित्तीय व् निर्माण प्रभार के अतिरिक्त शिक्षा मित्र मानदेय भुगतान प्रभार के अतिरिक्त समस्त प्रभार अघोषित रूप से शिक्षा मित्रों द्वारा ही क्रियान्वित /निशापादित किए जाते है,नियमानुसार उपरोक्त कार्यों का उत्तरदायित्व शिक्षा मित्रों का होने के कारण ,शिक्षा मित्र अवसर का नाजायज़ लाभ उठाते हुए,प्राप्त अधिकारों का दुरूपयोग कर घोटाले गबन व् अन्न अनेतिक कार्य करने में संलग्न रहते हैं,जबकि मामला पकड़ में आने पर भी उनके विरुद्ध कोई प्रत्यक्ष आरोप

पुश्ठित नही होता,न ही कोई दंडात्मक कार्यवाही सरलता से सम्भव हो पाती है,शिक्षा मित्र इसी का लाभ उठाते हुए विर्हद स्टर पर विषमताएं,घोटाले,गबन,भ्रष्टाचार,व् अनियमितताएं कर रहे हैं.

| NEXT

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

3 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

संगीता पुरी के द्वारा
January 29, 2009

बहुत सुंदर…आपके इस सुंदर से चिटठे के साथ आपका ब्‍लाग जगत में स्‍वागत है…..आशा है , आप अपनी प्रतिभा से हिन्‍दी चिटठा जगत को समृद्ध करने और हिन्‍दी पाठको को ज्ञान बांटने के साथ साथ खुद भी सफलता प्राप्‍त करेंगे …..हमारी शुभकामनाएं आपके साथ हैं।


topic of the week



latest from jagran